Monday, May 27, 2024
Home शिक्षा JSW में चोरी का भंडाफोड़.. स्कार्पियो से लाखों के कीमती मटेरियल तुलर की चोरी…आरओ ठेका कम्पनी का कारनामा… सिक्योरिटी की चौकस निगाहों से बच नहीं पाए चोर…सिक्योरिटी हेड दीपक तिवारी एन्ड टीम के चक्रव्यूह में फस गए चोर….मयमाल सहित चोरों को किया गया पुलिस के हवाले….

JSW में चोरी का भंडाफोड़.. स्कार्पियो से लाखों के कीमती मटेरियल तुलर की चोरी…आरओ ठेका कम्पनी का कारनामा… सिक्योरिटी की चौकस निगाहों से बच नहीं पाए चोर…सिक्योरिटी हेड दीपक तिवारी एन्ड टीम के चक्रव्यूह में फस गए चोर….मयमाल सहित चोरों को किया गया पुलिस के हवाले….

by Surendra Chauhan

रायगढ़।सिक्योरिटी की सर्तकता से JSW नहरपाली प्लांट में एक बड़ी चोरी का पर्दाफाश हुआ है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि चोरी का यह कारनामा जेएसडब्ल्यू की ठेका कम्पनी आरओ कंट्रक्शन कंपनी ने किया है। दरअसल आरओ ठेका कम्पनी को प्लांट के भीतर मेंटेनेंस और मैकेनिक का कॉन्ट्रेक्ट मिला हुआ है। इसी वेंडर के आधार पर ठेका कम्पनी के मुलाजिम अपनी वाहनों से प्लांट के भीतर काम कराने जाते थे। बताया जाता है कि आरओ कम्पनी द्वारा सिक्योरिटी गार्डो की नजरों से बचाकर रोजाना कीमती धातुओं को अपनी वाहनों में लोड कर ऐसी जगहों पर रखा जाता था,जंहा से उसे आसानी से बाहर निकाला जा सके। चोरी की शिकायतें लगातार बढ़ती ही जा रही थी। चोरों को दबोचने सिक्योरिटी हेड दीपक तिवारी ने चक्रव्यूह रचा,जिसके फेके जाल में रविवार की सुबह आखिरकार चोरों की टीम फस ही गए।। चोरों को उस समय दबोचा गया जब वे तुलर नामक कीमती धातु को अपनी स्कोर्पियो में लोड कर किसी अन्य जगह पर रखने जा रहे थे।।

पहले भी हो चुकी है चोरी

जेएसडब्ल्यू में चोरी का यह नया मामला नही है । बल्कि इससे पहले भी आयरन और पायलट गोली के भीतर स्पंज चोरी का पर्दाफाश हो चुका है।। इसके अलावा कम्पनी के कर्मचारियों द्वारा भी अमानत में खयानत करते हुए कई दफे कभी टिफिन बॉक्स में तो कभी बैग में कीमती सामानों को प्लांट से बाहर निकालने का मामला उजागर हो चुका है।

सिक्योरिटी की चौकस निगाहें

प्लांट से किसी भी तरह के सामानों को बिना अनुमति के बाहर निकालना पूरी तरह से प्रतिबंध है। बावजूद इसके चंद रुपयों के फायदे के लिए मुलाजिम लगातार अपनी हरकतों को अंजाम दे रहे है। हालांकि सिक्योरिटी हेड दीपक एन्ड कम्पनी ने जिस तरह चोरों को पकड़ने चौकसी बढ़ाई है। उसके बाद चोरों को हमेशा अब तक नाकामयाबी ही हाथ लगी है।। साल भर के आंकड़ों पर अगर गौर फरमाएं तो लगातार कार्रवाई और चप्पे चप्पे पर तैनात गार्डो की वजह से चोरी की घटनाओं में काफी हद तक कमी आई है।

You may also like